Episode- 18 || भारतीय इतिहास || मगध का उत्कर्ष || Gaurav Pandey

Leave a Message

Registration isn't required.


By commenting you accept the Privacy Policy

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Usernicename
Praveen bharati
May 27, 2020, 8:01 am

जरासंध महाभारत कालीन मगध राज्य का नरेश थे और महाराजा भरत के वंशज भी थे। सम्राट जरासंध ने बहुत से राजाओं को अपने कारागार में बंदी बनाकर रखा था। पर उन्होंने किसी को भी मारा नहीं था? इसका कारण यह था की मगध सम्राट जरासंध महादेव के बहुत बड़े भक्त थे और चक्रवर्ती सम्राट बनने की लालसा हेतु ही उन्होंने इन राजाओं को बंदी बनाकर रख रहे थे ताकि जिस दिन 101 राजा हों और वे महादेव को प्रसन्न करने के लिए उनकी बलि दे सके ? वो ब्राह्मणों की बहुत आदर करता थे,काफी दान पूर्ण करता था,वचन के भी काफी पक्के थे सम्राट जरासंध वह मथुरा के यदुवँशी नरेश कंस का ससुर एवं परम मित्र थे उसकी दोनो पुत्रियो आसित एव्म प्रापित का विवाह कंस से हुआ था। श्रीकृष्ण से कंस वध का प्रतिशोध लेने के लिए उन्होंने १७ बार मथुरा पर चढ़ाई की लेकिन जिसके कारण भगवान श्रीकृष्ण को मथुरा छोड़ कर भागना पड़ा फिर वो द्वारिका जा बसे, तभी उनका नाम रणछोड़ कहलाया। जरासंध जी महाराज श्री कृष्ण के परम शत्रु और चन्द्रवँशी क्षत्रिय समाज के सर्वश्रेष्ठ योद्धा थे। तत्कालीन भारतवर्ष के चन्द्रवँशी क्षत्रिय वँश के मगध सम्राट जरासन्ध जी महाराज ऐसे इकलौते सम्राट थे जिन्होंने पूरे विश्व पर मगध का शासन स्थापित किया था, उनके वंशजों ने उनकी हत्या के बाद भी लगभग 1000 वर्षों तक कुशलतापूर्वक शासन किया।

Usernicename
Amit Kumar Chaurasia
February 14, 2020, 10:57 pm

jarasandh do bhago me do ma ke garve se janm hua tha jarasanh ko jara namak rakshani ne jeevit kiya tha isi ke name par inka jara sandh name pada tha ye bahot bada mall yodhdha tha

Usernicename
Vijay laxmi
February 14, 2020, 9:15 pm

Jirasind kans ke sasur the ,jirasindh ki do putri Aasit & Prapit ka vivah kans se hua tha aur jirasindh chandrvansi chatriya samrath the.

Usernicename
Pravendra kumar yadav
February 14, 2020, 8:05 pm

brahdrat ka beta tha jrasand krishna ke mama ka sasur jra mahal m janm hone ke karan nam jrasand pda

Usernicename
Mohit Verma
February 14, 2020, 3:20 pm

Sir udain n ajat satru ki htya ki thi

Usernicename
SITESH KUMAR
February 14, 2020, 3:18 pm

Very nice sir

Usernicename
Aditya Vardhan Singh
February 14, 2020, 3:12 pm

Sir ye jo janpad bataye hain apne unko map me locate krke explain kr do...achhe se samajh aayega kon sa kaha pr tha ...

Usernicename
Apurva Purwar
February 14, 2020, 2:46 pm

jarashand shri kishna k sharu the enohne shri krishna s kansh k baddh ka bdla lene k liye mathura m 17 baar chadhai ki

Usernicename
Suman rawat
February 14, 2020, 2:33 pm

jarsandh kans ke sasur the and krishan ke virodhe the

Usernicename
Apurva Purwar
February 14, 2020, 2:29 pm

1 no class. Realy u r the best